3

प्राथमिक शिक्षा में प्रगति

नीतीश कुमार ने अपने दस साल के मुख्यमंत्रीत्व कार्यकाल में शिक्षा के क्षेत्र में जो कार्य किए, उसे अन्य राज्यों ने भी देखा। इस साल नीतीश कुमार की सरकार ने शिक्षा संबधी कार्यक्रमों में 31,00 करोड़ रुपये का निवेश किया है, जिसमें पोशाक, साइकिल, छात्रवृति आदि शामिल है। उच्च शिक्षा के लिए सरकार पंचायतों में 12वीं तक के विद्यालय खोलेगी। शिक्षकों को भी प्रशिक्षण देने के कार्यक्रम में निवेश के लिए सरकार विचार कर रही है।

6

सड़क और पूल निर्माण : बिहार में विकास

बिहार में एक जगह से दूसरे जगह तक पहुंचने के लिए संपर्क के माध्यमों में काफी सुधार देखा गया है। इसका लाभ लोगों को मिल रहा है। अच्छी सड़कें और पुलों की वजह से नीतीश कुमार के कार्यकाल में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) दो अंकों (डबल डिजिट) में पहुंचा। यह एक बड़ी उपलब्धी है बिहार के लिए। लघु उद्योगों में विस्तार हुआ है। घरों के निर्माण में भी कई गुणा वृद्धि दर्ज की गई।

5

ई-गवर्नेंस : बिहार में विकास

नीतीश कुमार जब मुख्यमंत्री बने तब उन्होंने प्रण ले लिया कि वे बिहार को देश के उन पांच प्रमुख राज्यों में शामिल करेंगे जो ई-गर्वनेंस, ई-साक्षर और सूचना प्रौद्योगिकी में अव्वल होगा। सरकार ने इस ओर कदम बढ़ाना शुरु किया और जल्द ही बिहार अन्य राज्यों के लिए एक मॉडल बन गया।

2

कानून व्यवस्था और सुशासन : बिहार में विकास

आज बिहार में स्थानीय लोग और बाहर से आने वाले लोग दोनों ही सुरक्षित महसूस करते हैं। बाहर जाने से लोग अब डरते नहीं है। देर तक अब शहरों में रेस्तरां, दुकानें और होटल खुले रहने लगे हैं। अपराधियों को कटघरे में लाया जा रहा है। लोगों का विश्वास सरकार पर बढ़ा है।

1

स्वास्थ्य के क्षेत्र में : बिहार में विकास

राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में विकास के लिए समग्र दृष्टिकोण अपनाया। सरकार बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं के साथ-साथ पोषण, पानी, और स्वच्छता पर ध्यान दिया। सरकार ने विशेष स्वास्थ्य योजनाओं जैसे, जननी एवं बाल सुरक्षा योजना व इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना शुरु की। इससे महिलाओं व बच्चों दोनों के स्वास्थ्य का ख्याल रखा जाने लगा। नवजातों के स्वास्थ्य सेवा जैसे टीकाकण व पोषण के लिए राज्य सरकार ने वैश्विक संगठनों से साझेदारी की।

Page 7 of 8« First...123...5678